Call Now Whatsapp Call Back

पेट दर्द के कारण, लक्षण और घरेलू इलाज

Share

पेट शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है जो शरीर की कार्यप्रणाली में एक अमाह भूमिका निभाता है। शरीर में होने वाली अत्यधिक आंतरिक समस्याएं पेट से जुड़ी होती है। पेट खाना ग्रहण कर उससे शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है। खान-पान में गड़बड़ी या दूसरी कारणों से पेट में कई तरह की समस्याएं पैदा होती हैं, पेट में दर्द होना भी उन्हीं में से एक है।

पेट दर्द क्या होता है (What is Stomach Pain)

पेट दर्द कई कारणों से हो सकता है, लेकिन अधिकतर मामलों में यह कब्ज, गैस, दस्त, सीने में जलन, अल्सर और गुर्दे की पथरी के कारण होता है। हालांकि, पेट में दर्द के अन्य भी कारण हो सकते हैं। 

पेट दर्द होने के लक्षण (Symptoms of Stomach Pain or Upset Stomach)

पेट में दर्द के कई लक्षण होते हैं। हालांकि, इसके मुख्य लक्षणों में निम्न शामिल हो सकते हैं:-

  • जलन
  • पेट में गुड़गुड़ाहट
  • खट्टी डकार आना
  • बुखार लगना
  • उल्टी होना
  • पेट फूलना
  • पेट में अत्यधिक गैस बनना
  • मल के साथ खून आना
  • सांस लेने में तकलीफ होना
  • पेट में भारीपन महसूस होना
  • पेट में सुई चुभने जैसा दर्द होना
  • रुक-रुक कर पेट में दर्द होना
  • पेट छूने पर मुलायम महसूस होना 
  • कुछ मामलों में उल्टी के साथ खून आना
  • कभ-कभी पेशाब करते समय दर्द होना

पेट दर्द होने के कारण (Causes of Stomach Pain)

पेट दर्द क्यों होता है?

पेट में दर्द कई कारणों से हो सकता है। पेट दर्द के मुख्य कारणों में निम्न शामिल हो सकते हैं:-

  • खाना हजम नहीं होना
  • कब्ज की शिकयत
  • अपेंडिसाइटिस 
  • फूड पॉइजनिंग
  • अल्सर या फोड़ा
  • हर्निया
  • इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम
  • पित्त की पथरी 
  • एंडोमेट्रियोसिस 
  • क्रोहन रोग
  • यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन
  • अल्सरेटिव कोलाइटिस
  • मासिक धर्म के दौरान ऐंठन
  • पेल्विक क्षेत्र की सूजन की बीमारी

इन सबके अलावा, पेट में दर्द के दूसरे भी अनेक कारण हो सकते हैं जैसे कि दिल का दौरा और निमोनिया आदि।

पेट दर्द से राहत पाने के उपाय (How to Treat Stomach Pain)

पेट दर्द को कैसे दूर करें?

पेट में दर्द से राहत पाने के लिए अनेक तरीके मौजूद हैं। पेट के दर्द से राहत पाने के लिए घरेलू नुस्खों, अंग्रेजी दवाओं, आयुर्वेदिक दवाओं, होम्योपैथिक दवाओं आदि का उपयोग किया जा सकता है। 

अगर पेट में दर्द का कारण बदहजमी, गैस, फूड पॉइजनिंग या कोई दूसरी सामान्य समस्या है तो दवाओं से इसका उपचार किया जा सकता है। अगर पेट दर्द का कारण कोई गंभीर बीमारी या समस्या है तो इस स्थिति में डॉक्टर सर्जरी का उपयोग कर सकते हैं। 

पेट में दर्द के सटीक कारण की पुष्टि करने के लिए डॉक्टर जांच का सहारा लेते हैं। जांच का परिणाम आने के बाद, डॉक्टर पेट दर्द के कारण और मरीज की उम्र एवं समग्र स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए उपचार के माध्यम का चुनाव करते हैं।

पेट में दर्द होने पर नीचे दिए गर खाद्य पदार्थों का सेवन किया जा सकता है:-

  • केला
  • चावल
  • ड्राई फ्रूट
  • कम मिर्च मसाले वाले खाद्य पदार्थ

पेट में दर्द होने पर आपका डाइट कैसे होना चाहिए इस बारे में अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए। अपने मन मुताबिक पेट दर्द के दौरान किसी भी खाद्य पदार्थ का सेवन आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

पेट में दर्द होने पर किन चीजों से परहेज करें (Things/foods to Avoid in Stomach Pain)

पेट दर्द में क्या नहीं खाना चाहिए?

जहां एक तरफ, पेट दर्द होने पर आपको कुछ चीजों का सेवन करने का सुझाव दिया जाता है, वहीं दूसरी तरह आपको कुछ खाद्य पदार्थों से परहेज करने को कहा जाता है। पेट दर्द होने पर आपको निम्न चीजों से परहेज करना चाहिए:-

  • चाय और कॉफी
  • शराब और सिगरेट
  • तम्बाकू और गुटखा
  • खट्टे फल
  • फैट से भरपूर पदार्थ
  • तैलीय और मसालेदार पदार्थ
  • टमाटर से बने खाद्य पदार्थ
  • कार्बोनेटेड पेय जल
  • डेयरी उत्पाद

पेट में दर्द होने पर ऊपर दिए गए खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए, क्योंकि ये पेट दर्द को बढ़ाकर दूसरी जटिलताएं पैदा कर सकते हैं।

पेट दर्द के घरेलू उपाय (Home Remedies for Stomach Pain)

पेट दर्द का घरेलू उपचार/इलाज

पेट दर्द का घरेलू उपचार किया जा सकता है। अगर पेट में दर्द का कारण कब्ज, बदहजमी या कोई आम समस्या है तो कुछ खास घरेलु नुस्खों से इसका उपचार किया जा सकता है। पेट में दर्द का उपचार निम्न घरेलू नुस्खों से किया जा सकता है:-

 पेट-दर्द-का-घरेलू-उपचार

  1. सौंफ:- पानी में एक चम्मच सौंफ उबालकर ठंडा होने के पास उसे छानकर पीएं
  2. हींग:- एक गिलास हल्का गर्म पानी में एक चुटकी हींग मिलकर उसका सेवन करें
  3. पुदीना:- पुदीना की चाय बनाकर दिन भर में 2-4 कप उस चाय का सेवन करें
  4. अदरक:- पानी में अदरक डालकर उसे उबालना और फिर उसे छानने के बाद, पानी में शहद मिलाकर उसका सेवन करें।
  5. सेब का सिरका:- एक कप हल्का गर्म पानी में सेब का सिरका और शहद मिलाकर उसे अच्छी तरह मिक्स करें और फिर उसका सेवन करें
  6. कैमोमाइल:- पानी में कैमोमाइल डालकर उसे अच्छी तरह उबालें और उसे छान लें, फिर अपने स्वाद मुताबिक निम्बू का रस और शहद मिलाकर उसका सेवन करें
  7. बेकिंग सोडा:- एक गिलास हल्का गर्म पानी में एक चम्मच बेकिंग सोडा और एक चम्मच निम्बू का रस एवं आधा चम्मच नमक को अच्छी तरह मिलाकर उसका सेवन करें

इन सबके अलावा, आप दही और चावल के पानी का भी उपयोग कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि पेट दर्द का उपचार करने की नियत से किसी भी प्रकार के घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल या सेवन करने से पहले डॉक्टर से उनकी राय अवश्य लें।

पेट दर्द होने पर जीवनशैली में कैसा बदलाव लाना चाहिए (Lifestyle Changes in Stomach Pain)

पेट दर्द में लाइफस्टाइल

पेट दर्द होने पर आपको अपने जीवन में अनेक बदलाव लाना चाहिए, क्योंकि इससे दर्द को कम करने में काफी मदद मिलती है। पेट में दर्द होने पर आप अपनी जीवनशैली में निम्न बदलाव ला सकते हैं:-

  • चाय या कॉफी का सेवन न करें
  • शराब और सिगरेट से दूर रहें
  • तैलीय और मसालेदार चीजें न खाएं
  • स्ट्रीट फूड्स से बचें
  • फास्ट फूड्स का सेवन न करें
  • भारी समान न उठाएं
  • रात में हेवी खाना न खाएं
  • खाना खाने के बाद कुछ समय तक टहलें
  • खाना खाने के तुरंत बाद लेटने से बचें
  • रोजाना सुबह और शाम में हल्का-फुल्का व्यायाम करें
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं
  • हल्का खाना जैसे कि खिचड़ी और दलिया आदि खाएं
  • चिंता या किसी और तरह की परेशानी होने पर तुरंत डॉक्टर से परामर्श करें

साथ ही, घरेलू नुस्खों या दवाओं से पेट दर्द ठीक नहीं होने पर डॉक्टर से मिलकर अपने पेट दर्द का उचित जांच और इलाज कराएं। लंबे समय तक पेट दर्द को नजरअंदाज करना खतरनाक साबित हो सकता है।

Do you have a question?

    Get in touch with us



    Get in touch with us

    Call Now