Call Now Whatsapp Call Back

लिकोरिया का कारण, लक्षण और उपचार

Likoria white discharge in hindi
Share

यौन स्वास्थ्य पर ध्यान न देने के कारण महिलाओं को कई तरह की परेशानियां होती हैं। लिकोरिया(white discharge in hindi)  यानी योनि से सफेद पानी आना भी उन्हीं में से एक है। यह एक सामान्य समस्या है जिसका आसानी से उपचार किया जा सकता है।

आइए इस ब्लॉग में लिकोरिया के कारण, लक्षण और उपचार के बारे में विस्तार से जानते हैं।

लिकोरिया क्या है

लिकोरिया को आम बोलचाल की भाषा में सफेद पानी, श्वेत प्रदर या व्हाइट डिस्चार्ज के नाम से जाना जाता है। यह महिलाओं में होने वाली एक आम समस्या है जो पीरियड्स से पहले या बाद में सामान्य तौर पर एक से दो दिन के लिए होता है।

इससे पीड़ित महिला की योनि से सफेद, पीला, हल्का नीला या लाल रंग का चिपचिपा और बदबूदार पदार्थ का स्राव होता है। ज्यादातर मामलों में यह स्राव सफेद रंग का होता है। हर महिला में इस स्राव की मात्रा और समयावधि अलग-अलग हो सकती है।

लिकोरिया के कारण महिला में संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। आमतौर पर यह समस्या विवाहित महिलाओं में अधिक देखने को मिलती है, लेकिन यह किसी भी उम्र की लड़की या महिला को हो सकता है।

लिकोरिया का कारण(White discharge reason in hindi)

लिकोरिया का कारण शरीर में पोषण की कमी और योनि के अंदर बैक्टीरिया मौजूद होना है। अत्यधिक मानसिक तनाव, भारी काम या व्यायाम आदि भी इसका कारण बन सकते हैं।

लिकोरिया यानी सफेद पानी आने के अन्य कारणों में निम्न शामिल हो सकते हैं:-

  • योनि की स्वस्छता का ध्यान नहीं रखना
  • शरीर में खून की कमी होना
  • अत्यधिक हस्तमैथुन करना
  • गलत तरह से शारीरिक संबंध बनाना
  • अत्यधिक उपवास करना
  • अधिक मेहनत करना
  • तीखे, तैलीय और मसालेदार पदार्थों का अधिक सेवन करना
  • किसी बीमारी से पीड़ित पुरुष के साथ संबंध बनाना
  • मन में हमेशा कामुक विचार होना
  • योनि में बैक्टीरिया होना
  • बार-बार गर्भपात होना या कराना
  • गर्भवती होना
  • यूरिनरी इंफेक्शन होना
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होना
  • मधुमेह के कारण योनि में फंगल यीस्ट इंफेक्शन होना
  • विटामिन सी की कमी होना 
  • विटामिन डी की कमी होना
  • एस्ट्रोजन डेफिशियेंसी यानी एस्‍ट्रोजन हार्मोन का लेवल कम होना

लिकोरिया का लक्षण

महिलाओं की यौन स्वास्थ्य से जुड़ी दूसरी समस्याओं की तरह लिकोरिया के भी कुछ लक्षण होते हैं जिनकी मदद से एक महिला इस बात का अंदाजा लगा सकती है की वह इससे पीड़ित है।

लिकोरिया यानी योनि से सफेद पानी आने के सामान्य लक्षणों में निम्न शामिल हैं:-

  • कमजोरी महसूस करना
  • चक्कर आना
  • योनि में तेज खुजली होना
  • शरीर में भारीपन महसूस होना 
  • बार-बार पेशाब लगना
  • भूख न लगना
  • जी मिचलाना
  • आंखों के सामने अंधेरा छाना
  • चिड़चिड़ापन होना
  • हाथ, पैर, कमर और पेट में दर्द होना
  • साफ शौच नहीं होना

अगर आप ऊपर दिए गए लक्षणों को महसूस करती हैं तो एक अनुभवी स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श करना चाहिए ताकि समय पर उचित जांच और इलाज की मदद से इस समस्या को आसानी से दूर किया जा सके।

लिकोरिया का उपचार 

लिकोरिया का उपचार (White discharge treatment in hindi)कई तरह से किया जाता है। डॉक्टर सफेद पानी के कारण की पुष्टि करने के बाद उपचार प्रक्रिया शुरू करते हैं। लिकोरिया कोई गंभीर समस्या नहीं है, लेकिन समय पर उचित इलाज नहीं करने पर जटिलताओं का खतरा होता है।

अगर आप लिकोरिया से पीड़ित हैं तो एक अनुभवी स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श कर इसका उचित जांच और इलाज कराना चाहिए। साथ ही, आप आप अपनी जीवनशैली में कुछ सकारात्मक बदलाव लाकर इससे छुटकारा पा सकती हैं जैसे कि:-

  • खुजली और जलन होने पर आइस पैक और गीली पट्टी का इस्तेमाल करें
  • अंडरवियर की साफ-साफ का खास ध्यान रखें
  • पीरियड्स के दौरान सैनिटरी नैपकिन को ज्यादा देर तक न पहनें
  • सिंथेटिक पैंटी के बजाय सूती या लीलन पैंटी पहनें
  • जननांग क्षेत्र को ज्यादा न धोएं, इससे पीएच असंतुलन हो सकता है
  • स्टूल पास करने या पेशाब के बाद आगे से पीछे की तरफ अच्छी तरह पानी से धोएं

इन सबके अलावा,

  • संतुलित आहार का सेवन करें
  • रोजाना कम से कम 10-12 गिलास पानी पीएं
  • हल्का-फुल्का व्यायाम करें
  • सुबह या शाम में मेडिटेशन करें
  • एक समय में एक ही साथी के साथ यौन संबंध बनाएं

साथ ही, अगर आपको किसी तरह की कोई समस्या या मन में प्रश्न हो तो डॉक्टर से मिलकर इस बारे में बात करें।

Do you have a question?

    Get in touch with us



    Get in touch with us

    Call Now